Thursday, October 14, 2010

हे माँ दुर्गे सकल सुखदाता


हे माँ दुर्गे सकल सुखदाता
हे जगदम्बा भाग्य विधाता
हे माँ शक्ति भव भयहरणी
हे चामुंडे सर्व मंगल करणी
दुर्बुद्धि निवारणी हे ममतामयी
वरदा, विद्या, धात्री, त्रयी 
दिव्य प्रकृति तेरा स्वरुप है
वन, उपवन,सागर, सरिता
झरने, पर्वत सब तेरे अनुरूप है
तू कर्ता, तू कारण, कारक
तू साधन, तू साध्य, निवारक
विकराल, कराल, कालिका तू माँ
स्नेह, ममता, करुणा, तू क्षमा
महिषासुरमर्दिनी, भक्तवत्सला
कृति, कृतिका, कमला, कपिला
सब पाप, ताप हर अखल विश्व के
माँ विश्व शांति का विस्तार करो
सब दुःख हरो माँ दुखियारों के
कल्याणमयी सर्व कल्याण करो
सम्पूर्ण, समर्थ, सशक्त, सहायक
निज बालकों का उद्धार करों
मिटा बैर, दुराचार, कुटिलता
मानव घट घट में प्रेम भरो
सब शोक हरो, हे माँ जगदम्बा 
दुष्टों का परिहार करों
दो आशीष, हो सदा सद्गामी
निज चित्त में सदैव विहार करो
माँ, निज चित्त में सदैव विहार करो .....

17 comments:

महेन्द्र मिश्र said...

बहुत बढ़िया रचना हैं ...... आभार
जय माँ भगवती ...

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

बहुत सुन्दर वन्दना रची है आपने!
--
दुर्गाष्टमी की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

Udan Tashtari said...

जय माता दी!!

निर्मला कपिला said...

बहुत सुन्दर। हे सृष्टी गते सर्वेशवरी श्री दुर्गाये नम:
दुर्गाष्टमी की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

संजय भास्कर said...

दुर्गाष्टमी की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

शाहिद मिर्ज़ा ''शाहिद'' said...

बहुत अच्छी रचना.
दुर्गाष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं!

Kailash C Sharma said...

बहुत सुन्दर वंदना...जय माता दी

राज भाटिय़ा said...

हे माँ दुर्गे सकल सुखदाता....बहुत सुंदर लगी मां की आरती, आप का धन्यवाद
दुर्गाष्टमी की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

अशोक बजाज said...

बेहतरीन पोस्ट .आभार !

महाष्टमी की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं !!

Tulsibhai said...

बहुत बढ़िया रचना......
आभार
जय माँ भगवती ...

----- eksacchai { AAWAZ}

http://eksacchai.blogspot.com

मनोज कुमार said...

मां भवानी को समर्पित यह रचना बहुत भाव पूर्ण है।
जय मां दुर्गे!

ताऊ रामपुरिया said...

बहुत ही सुंदर प्रार्थना गीत, दुर्गा नवमी एवम दशहरा पर्व की हार्दिक बधाई एवम शुभकामनाएं.

रामराम.

अनामिका की सदायें ...... said...

बहुत सुन्दर वन्दना रची है आपने!


दशहरे की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ

राजीव तनेजा said...

सुन्दर वन्दना ...
जय माता दी

sada said...

हे मां दुर्गे सकल सुखदाता ..... बहुत ही भावमय करते शब्‍द, बेहतरीन प्रस्‍तुति ।

Sonal said...

bahut badiya rachna...... jai mata di..

Mere blog par bhi sawaagat hai aapka.....

http://asilentsilence.blogspot.com/

http://bannedarea.blogspot.com/

Music Sunne or Download karne ke liye Visit karein...
Download Direct Hindi Music Songs And Ghazals

Anonymous said...

Best & effective prayer
Maa & parampita bless you.
s.sharma