Friday, October 1, 2010

आज के दिन "दो" फूल खिले थे


आज के दिन दो फूल खिले थे
दोनों ही बड़े महान
दोनों ने भारत की शान बढाई
दी भारत को नई पहचान
सत्य, अहिंसा का पावन पथ 
बापू ने था दिखलाया
धरती का लाल भी बड़ा बहादुर 
कहा "जय जवान जय किसान"
याद रखे दोनों की ही हम
न भूलें  किसी का भी नाम
दोनों ही भारत की शान हमेशा
दोनों ही वीर महान ...

आज २ अक्टूम्बर गाँधी जयंती हमारे राष्ट्रपिता "बापू " का जन्मदिन हम सभी के लिए एक बहुत बड़े और महान पर्व से कम नहीं .बापू ने जो इस देश के लिए किया है अतुल्य है इसीलिए हम सभी के लिए इस दिन का विशेष महत्व होना स्वाभाविक है ....आज ब्लॉग जगत में कई जगह गाँधी जयंती पर प्रकाशित पोस्ट्स देखने को मिल रही है ......लेकिन आज हमारे देश के एक और महान नेता का भी जन्म दिन है "लाल बहादुर शास्त्री " . जिनके किये महान कार्यों पर प्रकाश डालने की आवश्यकता यहाँ नहीं वो हम सभी जानते है ... इस महापुरुष का भी जन्मदिन आज ही है यह उल्लेख हमें भूलना नहीं चाहिए . मैं महात्मा गाँधी और लाल बहादुर शास्त्री के बिच मैं कोई तुलना नहीं कर रही हूँ ...ऐसा समझने की भूल भी न की जाए .
दोनों ही महापुरुष देश की शान है दोनों ने ही बहुत बड़े और महान कार्य किये है . आज के इस पवन दिवस पर भारत माता के दोनों वीर सपूतों को मेरा शत शत नमन .

37 comments:

Sunil Kumar said...

गाँधी जी और शास्त्री जी को शत शत नमन इसी लिए तो आज का दिन है स्मरणीय है

Archana Chaoji said...

नमन ...

हें प्रभु यह तेरापंथ said...

भारत माता के दोनों वीर सपूतों को मेरा शत शत नमन .

डॉ टी एस दराल said...

दोनों महापुरुषों पर हमें नाज़ है । इनको शत शत नमन ।

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' said...

महात्मा गांधी और पं. लालबहादुर शास्त्री को
प्रणाम करता हूँ!

M VERMA said...

नमन भारत के इन सपूतों को

Arvind Mishra said...

नमन

शाहिद मिर्ज़ा ''शाहिद'' said...

सत्य, अहिंसा का पावन पथ
बापू ने था दिखलाया
धरती का लाल भी बड़ा बहादुर
कहा "जय जवान जय किसान"

दोनों ही भारत की शान हमेशा
दोनों ही वीर महान ...
बहुत अच्छा लिखा है.
गांधी जयंती पर हार्दिक शुभकामनाएं

वाणी गीत said...

गांधीजी और शास्त्रीजी को नमन ...!

Girish Billore Mukul said...

गाँधी जी और शास्त्री जी को शत शत नमन इसी लिए तो आज का दिन है स्मरणीय है
नमन ...

ताऊ रामपुरिया said...

गांधी जी और शास्त्री जी को नमन.

रामराम

महेन्‍द्र वर्मा said...

देश के दोनों महान सपूतों को मेरा शत शत नमन।

Anonymous said...

desh ke do mahan saputon ko shat shat naman....
मेरे ब्लॉग पर इस बार जाने क्या है बापू की इच्छा......

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

गाँधी जी और लाल बहादुर शास्त्री जी ..दोनों को नमन

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

प्रणाम उन विभूतियों को!!

डॉ. महफूज़ अली (Dr. Mahfooz Ali) said...

गाँधी जी और शास्त्री जी को शत शत नमन........

दिगम्बर नासवा said...

शत शत नमन ....आज़ादी के इन सपूतों को ...... जिन्होने बहुत कुछ दिया है देश को ..... गाँधी जयंती और शास्त्री जी का जनम दिन मुबारक ...

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' said...

दो अक्टूबर को जन्मे,
दो भारत भाग्य विधाता।
लालबहादुर-गांधी जी से,
था जन-गण का नाता।।
इनके चरणों में श्रद्धा से,
मेरा मस्तक झुक जाता।।

Swarajya karun said...

गांधीजी और शास्त्री जी की जयन्ती पर सराहनीय प्रस्तुति के लिए आभार. सच्चाई और सादगी की मिसाल है उनकी जिंदगी का सफरनामा .

संजय भास्‍कर said...

गाँधी-जयंती पर सुन्दर प्रस्तुति....गाँधी बाबा की जय हो.
दोनों महापुरुषों पर हमें नाज़ है । इनको शत शत नमन ।

DR.ASHOK KUMAR said...

देश की दोनोँ महान विभूतियोँ को बारम्बार नमन। आपकी इस खूबसूरत रचना के लिए बहुत-बहुत बधाई। -: VISIT MY BLOG :- तपा सकेँ अगर सोना तो हृदय मेँ अगन होनी चाहिए।............ गजल को पढ़कर अपने अमूल्य विचार व्यक्त करने के लिए आप सादर आमंत्रित हैँ। आप इस उपरोक्त लिँक पर क्लिक कर सकती हैँ।

kumar zahid said...

आपके जजबात को सलाम!! बापू और शास्त्रीजी आधुनिक भारत की जमीन की ऐसी हस्तियां हैं जिन्हें याद करना ही अपने को रूपान्तरित करना है।

पूनम श्रीवास्तव said...

Bapu evam Shastree ji ke janmdivas ki hardik shubhkamnayen svikaren.
Poonam

Dr.R.Ramkumar said...

पितृपक्ष चल रहा है और हमारे इन पित्तुल्य बापू और शास्त्रीजी को आपने अपनी श्रृद्धांजली अर्पित की। यह निस्संदेह हमारी अविरल संस्कार सरिता आपूरित हो गई।

Kailash Sharma said...

आज के दिन दो फूल खिले थे
दोनों ही बड़े महान
दोनों ने भारत की शान बढाई
दी भारत को नई पहचान
....
भारत के दो महान सपूतों को बहुत ह्रदयस्पर्शी श्रद्धांजलि .....आभार...

अनामिका की सदायें ...... said...

इन महान नायकों को नमन.

अजय कुमार said...

राष्ट्रपिता और शास्त्री जी को शत शत नमन ।

मनोज कुमार said...

बहुत अच्छी प्रस्तुति। हार्दिक शुभकामनाएं!
तुम मांसहीन, तुम रक्त हीन, हे अस्थिशेष! तुम अस्थिहीऩ,
तुम शुद्ध बुद्ध आत्मा केवल, हे चिर पुरान हे चिर नवीन!
तुम पूर्ण इकाई जीवन की, जिसमें असार भव-शून्य लीन,
आधार अमर, होगी जिस पर, भावी संस्कृति समासीन।
कोटि-कोटि नमन बापू, ‘मनोज’ पर मनोज कुमार की प्रस्तुति, पधारें

वन्दना अवस्थी दुबे said...

दोनों महान आत्माओं को सादर नमन.

ब्लॉ.ललित शर्मा said...


सार्थक लेखन के लिए आभार

ब्लॉग4वार्ता पर आपकी पोस्ट की चर्चा है।

संगीता पुरी said...

दोनों ही महापुरुष देश की शान है दोनों ने ही बहुत बड़े और महान कार्य किये है . आज के इस पवन दिवस पर भारत माता के दोनों वीर सपूतों को मेरा शत शत नमन .
बहुत सही !!

अल्पना said...

बहुत अच्छी प्रस्तुति

शरद कोकास said...

देरी से पोस्ट देखी । दोनो महात्माओं को खूब याद किया है आपने

shikha varshney said...

दोनों महापुरषों को शत शत नमन.

Satish Saxena said...

बेहतरीन सामयिक पोस्ट लिखी इन महात्माओं पर , इनको याद करने के लिए आपका आभार !

योगेन्द्र मौदगिल said...

aapse sahmat hoon......sadhuwad..

mridula pradhan said...

hamari bhi sradhanjali.